दूसरे देशों के अंधविरोध-बहिष्कार का नाम देशभक्ति नहीं || आचार्य प्रशांत (2020)

प्रश्नकर्ता: मैं बचपन से ही देशभक्ति के माहौल में पला-बढ़ा हूँ, और ख़ुद भी देशभक्त हूँ। पर साथ-ही-साथ मेरे मन में विदेश जाने की भी इच्छा रहती थी। मैंने स्वयं को बहुत समझाया और ये विचार अपने मन से निकाल दिया। मैं वेस्टर्न क्लासिकल म्यूजिक (पाश्चात्य शास्त्रीय संगीत) का बहुत शौक़ीन हूँ, और इसी कारण मेरा मन यह सोचकर व्यथित रहता है कि मेरी देशभक्ति सच्ची नहीं है, क्योंकि मैं पाश्चात्य संगीत पसंद करता हूँ, और मेरे मन अब भी विदेश जाने का करता है।

आचार्य जी, कृपया समाधान सुझाएँ।

Read Full Article