आज के समय में आदर्श (रोल-मॉडल) किन्हें बनाएँ? || आचार्य प्रशांत (2019)

प्रश्न: आचार्य जी, आज के समय में हमारे जीवन में रोले-मॉडल अनुपस्थित हैं। घर में, ऑफिस में, ऐसा कोई नहीं दिखता जिसको मैं अपना रोले मॉडल मान सकूँ।

आचार्य प्रशांत जी: रोल-मॉडल (आदर्श) क्यों नहीं हैं? रोल-मॉडल, जैसा युग है वैसे ही हैं। कौन कह रहा है कि रोल-मॉडल नहीं हैं? आज कुछ लोगों के पास जितना पैसा है, उतना कभी रहा है? और वो सारे नाम आप जानते हैं जिनके पास पैसा है। आप को क्या लग रहा है, वो रोल-मॉडल नहीं हैं? इतिहास में कभी किसी के पास इतना पैसा नहीं रहा, जितना आज कुछ लोगों के पास है। तो ये रहे रोले-मॉडल।

Read Full Article